जनसांख्यिकीय लक्ष्यीकरण


या तो थर्ड पार्टी डेटा या अधिक रैखिक लक्ष्यीकरण रणनीतियों का उपयोग करके, विशिष्ट ऑडियंस तक पहुंचा जा सकता है। उम्र, लिंग, ब्याज और कई और मीट्रिक पर लक्षित करना संभव है। जनसांख्यिकीय लक्ष्यीकरण वांछित दर्शकों को लक्षित करने के लिए एक सरल लेकिन प्रभावी तरीका है।

Demographic Targeting

जनसांख्यिकीय लक्ष्यीकरण

अपने वांछित दर्शकों को लक्षित करने और उन तक पहुँच बनाने के लिए जनसांख्यिकीय आँकड़ों का उपयोग करें

मोबाइल एक व्यक्तिगत उपकरण है | यह लक्ष्यीकरण को प्रभावित करने वालेअंतहीन अवसरों का सृजन करता है | यह कहना उचित है कि अभी तक ऐसा कोई भी विपणन उपकरण मौजूद नहीं रहा है जो विज्ञापन दाताओं को अपने वांछित दर्शकों को इतने सटीक तरीके से लक्षित करने की अनुमति देता है |

अधिकांश मामलों में जनसांख्यिकीय आँकड़े तृतीय पक्ष डाटा प्रदाता के माध्यम से उपलब्ध होते हैं | इस वजह से, एक ऐसा मोबाइल विज्ञापन मंच आवश्यक है जो गुणवत्ता पूर्ण डाटा प्रदाताओं के साथ एकीकृत हो | एक प्रदाता जिस मात्रा में आँकड़े प्रदान करने में सक्षम होगा, उसी आधार पर मोबाइल विज्ञापन अभियान का परिणाम निर्धारित होता है | यहाँ गुणवत्ता संख्या के रूप में लागू होती है, विशेषतः जब अभियान स्थान-आधारित हो | इसके लिए मात्रात्मक और गुणात्मक दोनों मात्राओं में आँकड़ों की आवश्यकता होती है ताकि अति-स्थानीय स्तर पर वांछित दर्शकों तक पहुँचा जा सके | लिंग, आयु, रुचियाँ आदि केवल कुछ प्रभावित करने वाले तत्त्व हैं जिन्हें लक्षित किया जा सकता है |


तकनीकी विशेषताएँ

< वापस

Top